Wednesday, November 1, 2017

गुरु नाम की महिमा को समझे की गुरु जरुरी क्यू है


हमारा फेसबुक पेज प्लीज विजिट https://www.facebook.com/JayMahakal01/
हमारी वेबसाइट है www.jaymahakaal.com

आजकल गुरु मिले या ना मिले पर साधना का महत्व चल निकाला है कोन गुरुमुखी है या नही है पर उनके शिष्यो की तादात भी अच्छी खासी होती है जिनके गुरु पंथ का पता नही होता कोई जगत पिता को गुरु मानकर चलता है तो कोई जगत गुरु को गुरु मानकर चलता है जैसे वो इनको पुणे मंत्रोभेषक या पुणे संस्कार से या ऊर्जा शक्तिपात से दीक्षित कर के गये हो ओर कोई इनसे सलाह भी ले ले तो उनको राह तो बतायी जायेगी पर इष्टमंत्रोक्ति राह नही जो स्वयंम ने अपनायी है या उनकी पहुच मे होंगे तो स्वयंम दिक्षा दे देंगे जबिक दिक्षा के संस्कार कितने होते है उनको कोन झेलता है यह भी नही पता होता.. पर गुरु कोई बूरा भी नही होता गुरु पाखंडी गुरु पागल गुरु लोभी गुरु कामी हो सकता है पर गुरु निन्दा या पर गुरु निन्दा का चलन जैसे चल निकला हो सुनी सुनायी बाते तो गलत है सकती है पर आँखो दिखी बात भी कभी कभी गलत हो सकती है गुरु कुछ मंत्र या साधना देता है तो पुणे श्रद्धा ओर आस्था के साथ उनको करना चाहिए ओर आपकी गुरु की निंदा हो रही हो चाहे आप उनको गुरु तूल्य मानते हो या वो कई शिष्य के गुरु हो तो वो निंदा आपको पाप का भागी भी बना सकती है पर गुरु निंदा या गुरु निदां गुरु मुखी के लिये नही होती है यही सत्य है बाकी ये दुनिया सतयुग से ही ऐसी ही चल रही है कुछ लोग टांग खीचने ओर नीचा दिखाने के लिये खडे होंगे ओर कुछ छल कपट डट से झूठ बोलने मे महारत हासिल करेगे यही सत्य है इसलिए गुरु चाहे अनपढ हो पर वो आपका गुरु होता है उसकी वाणी ही आपके लिये देव वाणी होती है अक्सर देखा जाता है कि बाहर लोग आवरण बना लेते है कि मे शरीफ एकदम शांत ओर मातृशक्ति का आदर करने वाला पर रियल जिंदगी उनकी ऐसी नही होती क्योंकि वो अपने घरो मे या बाहर मातृशक्ति को नीचा दिखाने से या अपमानित करने से चूकते नही है ओर हमारा तो यही कहना है की शब्दो के साथ आचरण का निर्वाह करोगे तो सफलता जरुर मिलेगी बाकी शब्द भी यही रह जायेगे ओर आध्यात्मिक सफलता कोसो दूर बुरी शक्तियां का समय होता है पर अच्छी शक्तियौ का जब उदय होता है तो उस प्रकाश पुंज के सामने बुरी शक्तियां का कोई महत्व नही रह जाता यही सत्य है बुरी ताकतो के साथ अच्छी ताकतो का भी जन्म हो जाता है बस आप अपने जीवन का उद्देश्य समझे कि यहाँ इस संसार मे आपके होने का क्या कारण अगर गृहस्थ मे है तो माता पिता ओर बच्चो की जिम्मेदारी से बडी साधना कुछ नही हो सकती अगर इस जिम्मेदारी से मुंह छिपा के जाते है तो आध्यात्मिक भी आपके काम का नही है यही सत्य है बाकी जैसा सोचा वैसा मन ओर जैसा मन वैसा तन यही सत्य है. बाकी माँ बाबा की इच्छा ओर उनकी कृपा आज बस इतना ही नादान बालक की कलम से....

जय माँ जय बाबा महाकाल जय श्री राधे कृष्णा अलख आदेश..
🌹🙏🏻🌹

No comments:

Post a Comment

#तंत्र #मंत्र #यंत्र #tantra #mantra #Yantra
यदि आपको वेब्सायट या ब्लॉग बनवानी हो तो हमें WhatsApp 9829026579 करे, आपको हमारी पोस्ट पसंद आई उसके लिए ओर ब्लाँग पर विजिट के लिए धन्यवाद, जय माँ जय बाबा महाकाल जय श्री राधे कृष्णा अलख आदेश 🙏🏻🌹

जानये किस किस राशि पर रहेगा ग्रहण का प्रभाव ।

दो चंद्रग्रहण एवं एक सूर्य ग्रहण का योग बन रहा है 5 जून सन 2020 जेस्ट शुक्ला पूर्णिमा शुक्रवार को चंद्र ग्रहण होगा इस ग्रहण का प्रभाव विद...

DMCA.com Protection Status