Saturday, June 20, 2015

कुन्डलिनी












कुन्डलिनी [ Kundalini ]
का सौभाग्य है.
कुन्डलिनी जागरण साधना गुरु के सानिध्य मे
करनी चाहिये.
यह शक्ति अत्यन्त प्रचन्ड होती है.
इसका नियन्त्रण केवल गुरु ही कर सकते हैं.
यदि आप गुरु दीक्षा ले चुके हैं तो अपने गुरु की अनुमति से ही यह साधना करें.
यदि आपने गुरु दीक्षा नही ली है तो किसी योग्य गुरु से दीक्षा लेकर ही इस साधना में प्रवृत्त हों.

जागरण साधनात्मक जीवन
""Kundalini Jagran Mantra""
""|| ॐ ह्रीं मम प्राण देह रोम प्रतिरोम चैतन्य जाग्रय ह्रीं ॐ नम: || ""
यह एक अद्भुत मंत्र है.
इससे धीरे धीरे शरीर की आतंरिक शक्तियों का जागरण होता है और कालांतर में कुण्डलिनी शक्ति जाग्रत होने लगती है.
प्रतिदिन इसका १०८, १००८ की संख्या में जाप करें.
जाप करते समय महसूस करें कि मंत्र आपके अन्दर गूंज रहा है.

No comments:

Post a Comment

#तंत्र #मंत्र #यंत्र #tantra #mantra #Yantra
यदि आपको वेब्सायट या ब्लॉग बनवानी हो तो हमें WhatsApp 9829026579 करे, आपको हमारी पोस्ट पसंद आई उसके लिए ओर ब्लाँग पर विजिट के लिए धन्यवाद, जय माँ जय बाबा महाकाल जय श्री राधे कृष्णा अलख आदेश 🙏🏻🌹

बाबा हनुमान जी चालीसा

श्री हनुमान चालीसा हिंदी में अनुवाद सहित  ॐ हं हनमंते रूद्रात्मकाय हुं फट्  इस मंत्र का चालीसा शुरू करने ओर पुणेयता पर जपना चाहिए,   दोहा श्...

DMCA.com Protection Status