Tuesday, March 15, 2022

होली पर मिलेगी तंत्र क्रिया से मुक्ति भाग एक

मित्रों आप सभी को जय मां बाबा की और होली और रंगपंचमी, शीतला सप्तमी की बहुत बहुत शुभकामनाएं और हार्दिक बधाई मित्रों यू तो हम होली हो या कोई और पर्व साधारण सरल टोटके हमेशा आमजन के लिए देते हैं जो बिना किसी के गुरू के आमजन कर सके और अपना जीवन खुशहाल बना सके, मित्रों आप सभी से हमारा अनुरोध है आप सभी रोज दो मुट्ठी अनाज पक्षियों को और रोजाना एक एक  रोटी नंदी और गौमाता और आवारा कुत्तों को जरूर ताकि हमारे द्वारा दिए गये उपायों से आपकी उन्नति होती रहे नादान बालक की कलम से आज बस इतना ही बाकी अभी बहुत कुछ है ,होली 17मार्च को है कहीं कहीं 18 मार्च की भी हो सकती है समय दिशा काल के हिसाब से ,, होलिका दहन मुर्हुत

होलिका दहन का शुभ मुहूर्त
फांगुन पूर्णिमा 2022
पूर्णिमा तिथि प्रारम्भ  मार्च 17,2022 को 13.30 बजे
पूर्णिमा तिथि समाप्त मार्च 18,2022 को 12.48 बजे
होलिका दहन मार्च 17,2022
होलिका दहन का समय 06:33से10:05तक
मित्रों होली के दिन कई टोटके और साधनाएं और अपने मंत्र विधानों को पुनश्चरण किया जाता रहा है इस दिन श्मशानी साधनाएं भी की जाती है और अपनी आराध्य की साधारण और त्रीव साधनाएं की जा सकती है , कुछ साधनाएं होली से शुरू होकर नवरात्रि की दशमी तक भी चलती है इन दिनों आपको सात्विक रहना होता है होली के दिन कोई भी उपाय या क्रिया करे तो आपको मंधपान और मांसाहार का प्रयोग नहीं करना है तभी क्रिया सफल हो पाती है तो अब आपको उपाय और टोटके का विधान बताते हैं जो जगजाहिर है और हर बार हम उनको देते हैं आज पोस्ट लम्बी होगी पर आज इसको एक ही भाग में देने की कोशिश करेंगे, सभी प्रयोग करने से पहले आपको होलिका दहन के पूर्व स्नान कर शुद्ध, स्वच्छ वस्त्र धारण कर एक श्रीफल और सरसों (राई) नमक नींबू की एक पोटली बना लिजिए कागज़ या लाल कपड़े से और उसको अपने एवं परिवार के सदस्यों के ऊपर से 7 बार घड़ी की सुई की दिशा में उतारें (क्लाक वाइज)यदि किसी सदस्य को अधिक परेशानी है तो उनके लिए अलग से सारी समाग्री उतारें ,अब अपने आराध्य देवी देवता का ध्यान करके अपनी समस्या को उन्हें बताकर उस पोटली को होलिका में डाल दें एवं होलिका की सात(7) परिक्रमा करके समस्याओं दूर करने की प्रार्थना करें एवं अपने एवं ‍परिवार के लिए स्वास्थ्य, यश, दीर्घायु, धन, लाभ आदि की कामना करके हाथ जोड़कर प्रणाम करें तथा घर आकर अपने आराध्य देवी देवता को प्रणाम करें तथा घर के सभी बड़े-बुजुर्गों से आशीर्वाद लें भगवान को फल‍, मिष्ठान्न आदि का यथाशक्ति भोग लगाकर स्वयं ग्रहण करें,,बस इस दिन आपको शुद्धता, पवित्रता का विशेष ध्यान रखें, और बड़ी गोपनीयता के साथ इन सभी विधानों का प्रयोग अपनी सफलता के लिए करे अति आवश्यक है बिना किसी को भी बताए यह सभी क्रियाएं करनी चाहिए और हां जैसा हमने ऊपर लिखा है उस दिन किसी प्रकार का नशा या मांसाहार का प्रयोग नहीं करना चाहिए,
मित्रों किसी भी सफलता प्राप्ति के लिए होलिका दहन स्थल पर नारियल, पान तथा सुपारी भेंट करें और गृह क्लेश से निजात पाने और सुख-शांति के लिए होलिका की अग्नि में जौ-आटा चढ़ाएं ,और होलिका दहन केबाद राख को घर लेकर आना है जिसके कई प्रयोग है जो इसी पोस्ट में आपको विस्तार से बताये जायेंगे होलिका के दुसरे  दिन राख लेकर उसे लाल रुमाल में बांधकर पैसों के स्थान पर रखने से बेकार खर्च रुक जाते हैं, अपने दांपत्य जीवन में शांति के लिए होली की रात उत्तर दिशा में एक पाट पर सफेद कपड़ा बिछाकर उस पर मूंग, चने की दाल, चावल, गेहूं, मसूर, काले उड़द एवं तिल के ढेर पर नवग्रह यंत्र स्थापित करें। इसके बाद केसर का तिलक कर घी का दीपक जलाकर पूजन करें ,और जल्द #विवाह के लिए होली के दिन सुबह एक पान के पत्ते पर साबूत सुपारी और हल्दी की गांठ लेकर शिवलिंग पर चढ़ाएं और बिना पलटे घर आ जाएं अगले दिन भी यही प्रयोग करें, बुरी नजर से बचाव के लिए गाय के गोबर में जौ, अरसी और कुश मिलाकर छोटा उपला बना कर इसे घर के मुख्य दरवाजे पर लटका दें ,होलिका दहन की रात तगर, काकजंघा, केसर को “क्लीं कामदेवाय फट् स्वाहा” मंत्र से अभिमंत्रित कर होली के दिन इसे अबीर या गुलाल में मिलाकर किसी के सिर पर डालने से वह वश में हो जाता है यह प्रयोग सोच समझकर करें हम हमेशा वशीकरण मारण मोहन उच्चाटन के खिलाफ है पर ये विधान पति पत्नी के लिए उपयुक्त है दुष्प्रयोग के लिए आप स्वयं जिम्मेदार होंगे हमारा कार्य केवल जानकारी देना है,  होली की रात “ॐ नमो धनदाय स्वाहा” मंत्र के जाप से धन में वृद्धि होती है ,21 गोमती चक्र लेकर होलिका दहन की रात शिवलिंग पर चढ़ाने से व्यापार में लाभ होता है , मित्रों #उधार की रकम वापस पाने के लिए होलिका दहन स्थल पर अनार की लकड़ी से उसका नाम लिखकर होलिका माता से अपने धन वापसी का निवेदन करते हुए उसके नाम पर हरा गुलाल छिड़कने से लाभ होगा,होली की रात 12 बजे किसी पीपल वृक्ष के नीचे घी का दीपक जलाने और सात परिक्रमा करने से सारी बाधाएं दूर होती हैं , गोमती चक्र, कौ‍ड़ियां और बताशे जलती होली में स्वयं पर से उतार कर डालने से भी जीवन की हर बाधा स्वाहा हो जाती है ,भय और कर्ज से निजात पाने के लिए नरसिंह स्तोत्र का पाठ करना लाभदायक होता है, होलिका की राख को एक पोटली बनाकर तिजोरी या फिर ऐसी जगह रख दें जहां पर आप अपना धन रखते हों, ऐसा करने से संचित धन बढ़ता है, मित्रों किसी को टोने टोटके का भय होने पर इस राख से तिलक भी लगा सकते हैं, इससे आत्मबल मिलता है, होलिका की राख बहुत पवित्र और शुभ होती है। राख को माथे पर लगाना से सभी देवी-देवता संतुष्ट होते हैं ,इस राख को लगाने का एक नियम है इसे बाईं ओर से दाईं ओर लगाएं। इस रेखा को त्रिपुंड कहा गया है जिसके स्वामी महादेव, महेश्वर और शिव हैं, इसे लगाने से रोग, शोक, भय दूर होता है, बात विश्वास और आस्था की करके देखना फलश्रुति जरुर प्राप्त होती बाकी जेसी मां बाबा की कृपा और इच्छा नादान बालक की कलम से आगे और भी बहुत कुछ है, होलिका दहन की राख में थोड़ी सी राई और नमक मिलाकर उसको किसी साफ बर्तन में रख दें, इससे आपके घर की नकारात्मक ऊर्जा खत्म हो जाएगी ,साथ ही आपका बुरा समय भी खत्म हो जाएगा, ऐसी मान्यताएं हैं, वास्तुदोषों से मुक्ति पाने के लिए होली दहन के अगले दिन आप सर्वप्रथम अपने इष्ट देव को गुलाल अर्पित कर अपने निवास के ईशान कोण पर पूजन कर गुलाल चढ़ायें, यह उपाय करने से आपका घर वास्तुदोष से मुक्त हो जायेगा, यदि किसी के उपर कोई भय का साया है तो वह होली पर एक नारियल, एक जोड़ा लौंग व पीली सरसों इन सभी वस्तुओं को लेकर पीडि़त व्यक्ति के उपर से इक्कीस (21) बार उतार होलिका में डाल दिजिए और प्रार्थना कर लिजिए, मान लिजिए मित्रों अगर आपको राज्यपक्ष से बाधा आ रही है तो आप होलिका के उल्टे फेरे प्रारम्भ करें यह कोई गलत नहीं है प्रत्येक फेरे की समाप्ति पर आक की जड़ जलती होली में फेंके और अपनी समस्याओं से अवगत कराये इस उपाय को करने से आपको राज्य पक्ष से मिलने वाली सारी बॉधायें समाप्त हो जायेगी, और मित्रों अगर किसी मां बहन बेटी को शंका हो अपने पति पर की वो किसी और के चक्कर में हैं तो यह उपाय जरुर करे यानि किसी का पति दूसरी महिला के सम्पर्क में रहता है, तो आप होली पर उपरोक्त सामग्री अर्पण करें और सात( 7) बार होली की जलती आग की परिक्रमा करें परिक्रमा करते समय 1 गोमती चक्र अपने पति का नाम लेकर आग में डालें ऐसा करने से महिला का पति उसके पास वापस लौट आयेगा और उनकी शंका भी समाप्त हो जायेगी , यदि कोई  आपका अपना कहना नहीं मानता या आपका शत्रु ही बन गया हो तो उसका नाम लेते हुए होलिका की रात,लाल चंदन की माला से इस मंत्र का जाप करें- ओम् कामदेवाय विद्महे पुष्पबाणाय धीमहि तन्नो अनंग प्रचोदयात!!
मित्रों दुकान,आफिस,फैक्ट्री या मकान में अक्सर होने वाली या अचानक चोरी या नुकसान के बचाव हेतु सूखा नारियल और तांबे का पैसा घर या दुकान में सात बार चारों कोनों में घुमा कर होलिका में डालें,  होली की रात सरसों के तेल का चौमुखी दीपक घर के मुख्य द्वार पर लगाएं व उसकी पूजा करें इसके बाद भगवान से सुख-समृद्धि की प्रार्थना करें मान्यता के अनुसार ऐसा करने से हर प्रकार की बाधा का निवारण होता है , यदि व्यापार या नौकरी में उन्नति न हो रही हो, तो 21 गोमती चक्र लेकर होलिका दहन की रात में शिवलिंग पर चढ़ा दें इससे बिजनेस में फायदा होने लगेगा,  होली पर किसी गरीब को भोजन अवश्य कराएं माना जाता है कि ऐसा करने से आपकी मनोकामनापूरी हो जाती है, यदि राहु के कारण परेशानी है तो एक नारियल का गोला लेकर उसमें अलसी का तेल भर दें  उसी में थोड़ा सा गुड डालें और इस गोले को जलती हुई होलिका में डाल दें मान्यता के अनुसार ऐसा करने से राहु का बुरा प्रभाव समाप्त हो जाता है, धन हानि से बचने के लिए होली के दिन घर के मुख्य द्वार पर गुलाल छिड़कें और उस पर दोमुखी दीपक जलाएं दीपक जलाते समय धन हानि से बचाव के लिए मां बाबा से प्रार्थना करें , जब दीपक बुझ जाए तो उसे होली की अग्नि में डाल दे यह किया पुणे आस्था और श्रद्धापूर्वक करें, माना जाता है कि ऐसा करने से धन हानि नहीं होगी,अगर मित्रों आपके घर, दुकान, प्रतिष्ठान को नजर लग गई हो या प्रतिद्वंदी ने कुछ करा दिया हो तो, होलिका दहन की शाम मुख्य द्वार की दहलीज पर लाल गुलाल छिड़कें,उस पर आटे का दोमुखी दिया,थोड़ा सा सरसों का तेल डाल कर जलाएं। समस्याओं के निराकरण की प्रार्थना करें और और इस दीपक भी  ठंडा होने पर होलिका में डाल आएं लाभ होगा, कमल गटटे् की माला से ओम् महालक्ष्म्यै नमः का जाप करें यही माला धारण करके होलिका के निकट देसी घी का दीपक जलाकर आर्थिक संपन्नता की प्रार्थना करें, शीघ्र लाभ होता है, यदि आपको लगता है कि बच्चे को किसी की नजर लग गई है तो देसी घी में भीगे पांच लौंग,एक बताशा,एक पान का पत्ता होलिका दहन में अर्पित करें दूसरे दिन वहां की राख ला के ताबीज में भर के बच्चे को पहनाएं ,और यदि आपके घर को बुरी नजर लग गई है उसे उतारने का यह स्वर्णिम अवसर है देसी घी में भीगे दो लौंग,एक बताशा,मिश्री,एक पान का पत्ता होलिका दहन में अर्पित करें दूसरे दिन वहां की राख लाकर लाल कपड़े में बांध के घर में रखें ,यह उपाय हमने ऊपर भी दिया है कि यदि कोई आपकी धन वापसी में बेईमानी कर रहा है और आप मुकदमे में नहीं पड़ना चाहते तो होलिका दहन स्थल पर धन न लौटाने वाले का नाम जमीन पर अनार की लकड़ी से त्रिकोण के अन्दर लिखें और उस पर हरा गुलाल छिड़क दें होलिका माता से धन वापसी की प्रार्थना करें अगले दिन वहां से राख उठा के जल में उस व्यक्ति का नाम लेते हुए प्रवाहित कर दें, आपके पैसे आने की संभावना बढ जायेगी, और यदि कोई बहुत बीमार है या दवा नहीं लग रही तो एक मुट्ठी पीली सरसों,एक लौंग,काले तिल,एक छोटा टुकड़ा फिटकरी,एक सूखा नारियल लेकर उस पर 7 बार उल्टा घुमा के होलिका में दहन कर दें, दांपत्य जीवन में मिठास लाने के लिए रुई की 108 बात्तियां  देसी घी में भिगोकर के होलिका में संबंध सुधार की अनुनय सहित एक एक करके परिक्रमा करते हुए डालें यह उपाय माता -पिता अपने बच्चों, वर-वधु की फोटो पर घुमा कर भी कर सकते हैं ,यदि आपको लगता है कि किसी ने आपके ऊपर तांत्रिक अभिचार किया हुआ है जिसके कारण आपकी प्रगति ठप्प हो गई है तो देसी घी में भीगे दो लौंग,एक बताशा,एक पान का पत्ता होलिका दहन में अर्पित करें। दूसरे दिन वहां की राख ला के शरीर पर मलें और नहा लें तांत्रिक अभिचार दूर हो जाएगा, मित्रों अगर कोई असाध्य बीमारी हो जाए जो किसी भी उपाय से सही नहीं हो रही है तो होली की रात को तुलसी की माला से
 “ऊँ नमो भगवते रुद्राय मृतार्क मध्ये संस्थिताय मम शरीरं अमृतं कुरु कुरु स्वाहा” 
मंत्र का जाप करें जल्दी ही बीमारी हमेशा के लिए दूर हो जाएगी होली के दिन एक साबुत पान डंण्डल सहित, गुलाब का फूल और कुछ बताशे रोगी के ऊपर से इक्कावन (51 )बार उतार कर चौराहे पर रखने से भी रोगी तुरंत ठीक हो जाता है, . मित्रों यदि आप अक्सर पैसों से परेशान रहते हैं या फिर आपके घर में धन रूकता नहीं है तो आप होलिका दहन के बाद अगले दिन होलिका दहन की राख को लेकर आएं और उसे लाल कपड़े में सात गोमती चक्र के साथ बांधकर अपने धन वाले स्थान पर रख दें ऐसा करने से आपके पास धन रूकने लगेगा ऐसा माना जाता है, और हां मित्रों किसी के घर या दुकान में वास्तुदोष है तो यह उपाय कर सकता है होलिका दहन के बाद लाल रंग के कपड़े के पांच टुकड़े लें और उसमें होलिका दहन की राख भरें इसके बाद उसे पीले धागे से बांध लें पोटली बनाने के बाद पहली पोटली घर के मुख्य द्वार पर और बाकी चार पोटली घर के चारों कोनों में टांग दें। ऐसा करने से आपके घर का वास्तु दोष हमेशा के लिए समाप्त हो जाएगा और आप फिजुल खर्च से बच जायेंगे, उपाय तो और भी कई है मित्रों बाकी अगली पोस्ट में देते हैं नादान बालक की कलम से अभी बस इतना ही बाकी अगली पोस्ट में आगे जैसी मां बाबा की कृपा और इच्छा और आपकी आस्था श्रद्धा और विश्वास क्योंकि सब कुछ आपके विश्वास पर निर्भर है,,जय मां बाबा की मित्रों,,
जय मां जय बाबा महाकाल जय श्री राधे कृष्णा अलख आदेश 🙏🌹🙏

No comments:

Post a Comment

#तंत्र #मंत्र #यंत्र #tantra #mantra #Yantra
यदि आपको वेब्सायट या ब्लॉग बनवानी हो तो हमें WhatsApp 9829026579 करे, आपको हमारी पोस्ट पसंद आई उसके लिए ओर ब्लाँग पर विजिट के लिए धन्यवाद, जय माँ जय बाबा महाकाल जय श्री राधे कृष्णा अलख आदेश 🙏🏻🌹

एक बात हमेशा ध्यान रखें समर्पण से ही सभी को साधा जाता है,,

आप सभी मित्रों को जय मां जय बाबा महाकाल जय श्री राधे कृष्णा अलख आदेश,, #शाबरमंत्र #वैदिकमंत्र अन्य मंत्र साधनाएं मित्रों यह ब्लॉग हमने आमजन ...

DMCA.com Protection Status