Sunday, December 22, 2019

शाबर तंत्र बेसिक ग्यान ओर दिशा रक्षा मंत्र विधान भाग चौदहवां

मित्रो जैसा की आप सभी ने शाबर मंत्र तंत्र का बेसिक ग्यान ओर नियमावली, सावधानियां मे आपने पढा की कैसे शाबर क्रिया करते है ओर उनके लिए जरूरी चीजे ओर नियम क्या क्या है मित्रो शाबर के लिए सबसे जरूरी है गुरू दिक्षा जैसा हम पहले ही बता चूके है, गुरू मंत्र, फिर शाबर गुरू मंत्र फिर दिशा बंधन ,रक्षा मंत्र, आसन मंत्र, ,गोरखगायत्री, इन सभी का सहस्त्र मंत्रो का जाप करना पडता है, ग्रहण पर्व ,शुभ दिन, शुभ नक्षत्र, आदि मे जप हवन आदि ओर गुरू द्वारा बतायी गयी क्रिया द्वारा उनको सिद्ध किया जाता है याद रहे दोस्तो गुरू केवल दिशा निर्देश दे सकता है या आपके पास समय हो तो गुरू सानीध्ये मे भी यही क्रियाये की जा सकती है मित्रो इसलिए कहाँ जाता है कि गुरू बिना कही ग्यान नही,नादान बालक की कलम से आज बस इतना ही बाकी फिर कभी जैसा मित्रो भाग तेरहवे मे हमने गुरू शाबर सिद्धि मंत्र दिया था अब हम आपको दिशा रक्षा मंत्र दे रहे है, जिससे स्वयंम को सुरक्षित रखा जा सकता है,
उतर बांधों , दक्खिन बांधों, बांधो मरी मसानी,
डायन, भूत, के गुण बांधों, बांधों कुल परिवार, 
नाटक बांधों,  चाटक बांधों,  बांधों भुइयां बैताल,  
नजर गुजर देह बांधों, राम दुहाई फेरों,
इसी तरह दुसरा मंत्र है,
जल बांधों, थल बांधों, बांधों  अपनी काया, 
सात सौ योगिनी बांधों, बांधों अपनी काया, 
दुहाई कामरू कामाक्षा नैना योगिनी की, 
दुहाई गौरा पार्वती की, 
दुहाई वीर मसान की,
मित्रो इन दोनो मंत्र के अलावा कई मंत्र है, अब मित्रो आगे जब भी समय मिलेगा आपको शाबर मंत्र ही पोस्ट किये जायेगे पर मित्रो उनकी विधियाँ हम नही दे सकते क्योंकि कई बाबा बने हुये है, ओर हम नही चाहते की किसी का अहित हो, इसलिए कल से केवल मंत्र विधान ही दिये जायेगे क्रिया आप सभी अपने अपने गुरू देव से प्राप्त करे धन्यवाद मित्रो बाकी फिर कभी,,
अच्छा लगे तो लिंक फेसबुक पर शेयर करे वाटसअप पर शेयर करे ताकि दुसरो को राह मिल सके,,
जय माँ जय बाबा महाकाल जय श्री राधे कृष्णा अलख आदेश

No comments:

Post a Comment

#तंत्र #मंत्र #यंत्र #tantra #mantra #Yantra
यदि आपको वेब्सायट या ब्लॉग बनवानी हो तो हमें WhatsApp 9829026579 करे, आपको हमारी पोस्ट पसंद आई उसके लिए ओर ब्लाँग पर विजिट के लिए धन्यवाद, जय माँ जय बाबा महाकाल जय श्री राधे कृष्णा अलख आदेश 🙏🏻🌹

जानये किस किस राशि पर रहेगा ग्रहण का प्रभाव ।

दो चंद्रग्रहण एवं एक सूर्य ग्रहण का योग बन रहा है 5 जून सन 2020 जेस्ट शुक्ला पूर्णिमा शुक्रवार को चंद्र ग्रहण होगा इस ग्रहण का प्रभाव विद...

DMCA.com Protection Status