Thursday, October 5, 2017

आप हो कहाँ...... कोन है आपका...




आज की दुनिया मे दिल ओर दिमाग सभी के पास होता है पर अपने दिमाग को वो कहाँ काम मे लेते है यह हम नही पता दिमाग वहाँ लगाईये जहाँ से कुछ भौतिक सुख मिलने की आशा होती है ओर जिस से आध्यात्मिक मे कुछ पाने की आस होती है वहाँ दिल ओर दिमाग दोनो से काम लिया जा सकता है हालाकि हमारी बाते कुछ महानभवो को सई की तरह चुभती है पर हमने कभी किसी को टारगेट नही बनाया पर कोई उन बातो को अपने ऊपर ले तो हम क्या कर सकते खैर हमारा काम कहना है वो सुनने ओर पढने के अलावा ओर कर क्या सकते यह बात उसी तरह उन पर लागू होती है की कुते की पुछ छः महीने अगर पाइप मे रखा जाये तो भी वो सीधी नही होती चाहे आप के मुह ये फुल भी गिरेगा तो भी सामने वाले को पत्थर ही लगेगा ओर भौतिक ओर आध्यात्मिक जगत मे आपके सामने ऐसे कई पत्थर आयेगे याद रखे ऐसे कई है इस दुनिया मे जो आपकी पीठ पीछे आपकी बात करेगे आप भूलना चाहो तो भी वो भूलने ना देगे क्योकि यही आपके सच्चे हितैषी होते है इसलिए बहेरे बन जाओ ओर इनकी सुनने की बजाये अपने योग ध्यान पुजा जप तप ओर अपने परिवार पर पुणे ध्यान दे एक कहावत है बहुत पुरानी की"चार लोग देखेगे तो क्या कहेगे" ये वो ही चार लोग होते है जिनका अपने घरों मे नही पर बाहरी लोगो की जिंदगी मे दखल देना अपना धर्म समझते है जिनकी अपने घर ओर गली, गाँव मे दो कोडी इज्जत नही पर लोगो की जिंदगी मे दखल देना अपना अधिकार समझते है बस आपको इन्ही लोगो से बचकर रहना है ओर बहरा बन जाना है ये उसी तरह जिस तरह हम लिखते है आपको अच्छा नही लगता है तो नजरअंदाज करे ..बस निजी ज़िंदगी मे भी यही करना है कि ना ऐसे आदमी को देखना है ना सुनना है बस यही आपके भौतिक  ओर आध्यात्मिक जीवन के लिए जरुरी है कर्म कुछ भी करो पर धर्म की राह नही छोडनी है गुरु नही है तो इष्ट को पकड लो पर ऐसे बंदो पर ध्यान मत दो..
बाकी..
आप हो कहाँ आपके साथ है कोन कोई नही...
*ख़ुशी जल्दी में थी रुकी नहीं,*
*ग़म फुरसत में थे - ठहर गए...!*
*"लोगों की नज़रों में फर्क अब भी नहीं है ....*
*पहले मुड़ कर देखते थे ....*
 *अब देख कर मुड़ जाते हैं*
 *आज परछाई से पूछ ही लिया*
*क्यों चलती हो , मेरे साथ*
*उसने भी हँसके कहा,*
*दूसरा कौन है तेरे साथ*
यही सत्य है.. बाकी आगे माँ बाबा की इच्छा ओर कृपा आज बस इतना ही नादान बालक की कलम से जो अच्छा लगे तो शेयर करो बुरा लगे तो माफ करो ओर नजरअंदाज करो..
*🌹ॐ गुरुदेवाये नमः ॐ इष्टदेवाये नमः🌹*



*🙏🏻जय माँ जय बाबा महाकाल जय श्री राधे कृष्णा अलख आदेश🌹*

No comments:

Post a Comment

#तंत्र #मंत्र #यंत्र #tantra #mantra #Yantra
यदि आपको वेब्सायट या ब्लॉग बनवानी हो तो हमें WhatsApp 9829026579 करे, आपको हमारी पोस्ट पसंद आई उसके लिए ओर ब्लाँग पर विजिट के लिए धन्यवाद, जय माँ जय बाबा महाकाल जय श्री राधे कृष्णा अलख आदेश 🙏🏻🌹

नवरात्रि मे कब से है ओर क्या करे नवरात्रि मे

मित्रो 25 मार्च से यानी चैत्र नवरात्रि के दिन से हिंदी का नव वर्ष शुरू होने जा रहा है हिंदू यानि सत्य सनातन धर्म नववर्ष के पहले दिन को नव स...

DMCA.com Protection Status