Friday, May 26, 2017

मृतसंजीवनी मंत्र



इसको शांबर तो नही कह सकते पर ये मृतसंजीवनी मंत्र होने से शाबर मे ही इसकी गणना की जा सकती है..

ऊँ नमो भगवति मृतसंजीवनी 'अमुक' शांति कुरु कुरु स्वाहा.


ये मंत्र दिखने मे छोटा है पर बडे काम है अगर इससे शरीर के असाध्य रोग दूर होते बस आपमे अपने गुरु ओर इष्ट के प्रति सच्ची आस्था ओर विश्वास होना चाहिए.... किसी भी शुभ मर्हुत या किसी शुभ नक्षत्र मे शुरु करके ग्यारह सौ बार रुद्राक्ष की माला से पुणे पवित्रता को साथ जप कर ले फिर आप इसका इस्तेमाल आप अपने लिए ओर किसी ओर के लिये कर सकते है 'अमुक' की जगह रोगी का नाम ले या रोगी खुद करे तो अमुक को हटा दे... माँ भगवती को साक्षी मानकर शुरु कर दे जिसने एक बार सिद्ध किया है वो किसी ओर को  भी जपने के लिये कह सकता है पत्येक रोगी के नाम से माँ के मंदिर मे नारियल भेजना ना भुले ओर रोगी का हाथ लगाकर गाय को गुड भी खिला दे सवा किलो थोडा थोडा करके..

बाकी माँ बाबा की इच्छा... ओर उनकी कृपा

No comments:

Post a Comment

#तंत्र #मंत्र #यंत्र #tantra #mantra #Yantra
यदि आपको वेब्सायट या ब्लॉग बनवानी हो तो हमें WhatsApp 9829026579 करे, आपको हमारी पोस्ट पसंद आई उसके लिए ओर ब्लाँग पर विजिट के लिए धन्यवाद, जय माँ जय बाबा महाकाल जय श्री राधे कृष्णा अलख आदेश 🙏🏻🌹

साल का आखिरी चंद्र ग्रहण लगेगा कार्तिक पूर्णिमा के दिन , जानें समय और तारीख।

कार्तिक पूर्णिमा 30 नवंबर को है. इस बार की कार्तिक पूर्णिमा बहुत ही खास माना जा रहा है, क्योंकि इस दिन देव दीपावली भी है. वहीं, इस दिन इस सा...

DMCA.com Protection Status