Friday, April 28, 2017

श्री हनुमाष्टादशाक्षर मन्त्र-प्रयोग

श्री हनुमाष्टादशाक्षर मन्त्र-प्रयोग
मन्त्रः-

जय माँ जय बाबा महाकाल....

*“ॐ नमो हनुमते आवेशय आवेशय स्वाहा ।”*

विधिः- अब विधा विधान कहते है सबसे पहले हनुमान जी की एक मूर्त्ति रक्त-चन्दन से बनवाए ।
किसी शुभ मुहूर्त्त में उस मूर्ति की प्राण-प्रतिष्ठा कर उसे रक्त-वस्त्रों से सु-शोभित करे ।
फिर रात्रि में स्वयं रक्त-वस्त्र धारण कर, रक्त आसन पर पूर्व की तरफ मुँह करके बैठे ।
हनुमान जी उक्त मूर्त्ति का पञ्चोपचार से पूजन करे ।
किसी नवीन पात्र में गुड़ के चूरे का नैवेद्य लगाए और नैवेद्य को मूर्ति के सम्मुख रखा रहने दे ।
घृत का ‘दीपक’ जलाकर, रुद्राक्ष की माला से उक्त ‘मन्त्र’ का नित्य ११०० जप करे .
और जप के बाद स्वयं भोजन कर, ‘जप’-स्थान पर रक्त-वस्त्र के बिछावन पर सो जाए ।
अगली रात्रि में जब पुनः पूजन कर नैवेद्य लगाए, तब पहले दिन के नैवेद्य को दूसरे पात्र में रख लें । इस प्रकार २१ दिन करे ।
२२वें दिन एकत्र हुआ ‘नैवेद्य’ किसी दुर्बल ब्राह्मण को दे दें
अथवा
पृथ्वी में गाड़ दे ।
ऐसा करने से हनुमान जी रात्रि में स्वप्न में दर्शन देकर सभी प्रकार की समस्याओं का समाधान कर सेकतेे हैं ।
स्वप्न नही आये तो दुबारा कोशिश करे पर पुणे समर्पित की भावना से '
‘पर प्रयोग’ को गुप्त-भाव से करना चाहिए ओर किसी को बताना भी नही चाहिए.. ।
..
जय माँ जय बाबा महाकाल जय श्री राधे कृष्णा अलख आदेश....
🙏🏻🌹🌹🌹🌹🌹🙏🏻

No comments:

Post a Comment

#तंत्र #मंत्र #यंत्र #tantra #mantra #Yantra
यदि आपको वेब्सायट या ब्लॉग बनवानी हो तो हमें WhatsApp 9829026579 करे, आपको हमारी पोस्ट पसंद आई उसके लिए ओर ब्लाँग पर विजिट के लिए धन्यवाद, जय माँ जय बाबा महाकाल जय श्री राधे कृष्णा अलख आदेश 🙏🏻🌹

साल का आखिरी चंद्र ग्रहण लगेगा कार्तिक पूर्णिमा के दिन , जानें समय और तारीख।

कार्तिक पूर्णिमा 30 नवंबर को है. इस बार की कार्तिक पूर्णिमा बहुत ही खास माना जा रहा है, क्योंकि इस दिन देव दीपावली भी है. वहीं, इस दिन इस सा...

DMCA.com Protection Status