Friday, June 26, 2015

वाहन दुर्घटना से बचने के लिये

वाहन दुर्घटना से बचने के लिये

ग्रहों में शुक्र को विवाह  वाहन का कारक ग्रह कहा गया है (इसलिये वाहन दुर्घटना सेबचने के लिये भी ये उपाय किये जा सकते है.शुक्र के उपाय करने से वैवाहिक सुख की प्राप्ति की संभावनाएं बनती हैवाहन से जुडेमामलों में भी यह उपाय लाभकारी रहते है.

       
शुक्र की वस्तुओं से स्नान (Bathe Using the Products Related to Venus)
    
ग्रह की वस्तुओं से स्नान करना उपायों के अन्तर्गत आता हैशुक्र का स्नान उपायकरते समय जल में बडी इलायची डालकर उबाल कर इस जल को स्नान के पानी मेंमिलाया जाता है (boil big cardamom in a water and miÛ in the bathing water). इसकेबाद इस पानी से स्नान किया जाता हैस्नान करने से वस्तु का प्रभाव व्यक्ति पर प्रत्यक्षरुप से पडता हैतथा शुक्र के दोषों का निवारण होता है.
    
यह उपाय करते समय व्यक्ति को अपनी शुद्धता का ध्यान रखना चाहिएतथा उपायकरने कि अवधि के दौरान शुक्र देव का ध्यान करने से उपाय की शुभता में वृ्द्धि होती है.इसके दौरान शुक्र मंत्र का जाप करने से भी शुक्र के उपाय के फलों को सहयोग प्राप्त होताहै (recite Mantra at the time of bathing).शुक्र की वस्तुओं का दान - Donate Products related to Venus
शुक्र की दान देने वाली वस्तुओं में घी  चावन (Ghee and rice are the products of Venus)  का दान किया जाता है.  इसके अतिरिक्त शुक्र क्योकि भोग-विलास के कारक ग्रहहैइसलिये सुखआराम की वस्तुओं का भी दान किया जा सकता हैबनाव  -श्रंगार कीवस्तुओं का दान भी इसके अन्तर्गत किया जा सकता है (cosmetics and luÛurious products). दान क्रिया में दान करने वाले व्यक्ति में श्रद्धा  विश्वास होना आवश्यक हैतथायह दान व्यक्ति को अपने हाथों से करना चाहिएदान से पहले अपने बडों का आशिर्वादलेना उपाय की शुभता को बढाने में सहयोग करता है.शुक्र मन्त्र का जाप (Enchantment of Venus's Mantra)
शुक्र के इस उपाय में निम्न श्लोक का पाठ किया जाता है.

       "
ऊँ जयन्ती मंगला काली भद्रकाली
       
दुर्गा क्षमा शिवा धात्री स्वाहा स्वधा"शुक्र के अशुभ गोचर की अवधि या फिर शुक्र की दशा में इस श्लोक का पाठ प्रतिदिन याफिर शुक्रवार के दिन करने पर इस समय के अशुभ फलों में कमी होने की संभावनाबनती हैमुंह के अशुद्ध होने पर मंत्र का जाप नहीं करना चाहिएऎसा करने पर विपरीतफल प्राप्त हो सकते हैवैवाहिक जीवन की परेशानियों को दूर करने के लिये इस श्लोक काजाप करना लाभकारी रहता है (तमबपजम जीपे डंदजतं जव तमेवसअम उंततपमकसपमि चतवइसमउे). वाहन दुर्घटना से बचाव करने के लिये यह मंत्र लाभकारी रहता है.

      
शुक्र का यन्त्र  (Yantra of Venus)
   
शुक्र के अन्य उपायों में शुक्र यन्त्र का निर्माण करा कर उसे पूजा घर में रखने पर लाभप्राप्त होता हैशुक्र यन्त्र की पहली लाईन के तीन खानों में 11,6,13 ये संख्याये लिखी जातीहैमध्य की लाईन में 12,10, 8 संख्या होनी चाहिएतथा अन्त की लाईन में 07,14,9संख्या लिखी जाती हैशुक्र यन्त्र में प्राण प्रतिष्ठा करने के लिये किसी जानकार पण्डितकी सलाह ली जा सकती हैयन्त्र पूजा घर में स्थापित करने के बाद उसकी नियमित रुपसे साफ-सफाई का ध्यान रखना चाहिए.


     
मांगलिक योग का उपाय (Remedies for Manglik Yoga)
अगर किसी का विवाह कुण्डली के मांगलिक योग के कारण नहीं हो पा रहा हैतो ऎसेव्यक्ति को मंगल वार के दिन चण्डिका स्तोत्र का पाठ मंगलवार के दिन तथा शनिवार केदिन सुन्दर काण्ड का पाठ करना चाहिएइससे भी विवाह के मार्ग की बाधाओं में कमीहोती है.

       
छुआरे सिरहाने रख कर सोना
यह उपाय उन व्यक्तियों को करना चाहिएजिन व्यक्तियों की विवाह की आयु हो चुकी है.परन्तु विवाह संपन्न होने में बाधा  रही हैइस उपाय को करने के लिये शुक्रवार कीरात्रि में आठ छुआरे जल में उबाल कर जल के साथ ही अपने सोने वाले स्थान परसिरहाने रख कर सोयें तथा शनिवार को प्रातरस्नान करने के बाद किसी भी बहते जलमें इन्हें प्रवाहित कर दें.कुछ ग्रहों के अशुभ प्रभाव के कारण कन्या के विवाह में विलंब हो तो इस प्रकार के उपायस्वयं कन्या द्वारा करवाने से विवाह बाधाएं दूर होती है.

    
किसी भी माह की शुक्ल पक्ष की चतुर्थी से चांदी की छोटी कटोरी में गाय का दूध लेकरउसमें शक्कर एवंउबलेहुए चांवल मिलाकर चंद्रोदय के समय चंद्रमा को तुलसी की पत्तीडालकर यह नेवैद्य बताएं  प्रदक्षिणा करेंइस प्रकार यह नियम 45 दिनों तक करें ,45ङ्घह्न दिन पूर्ण होने पर एक कन्या को भोजन करवाकर वस्त्र और मेंहदी दान करें,ऐसाकरने से सुयोग्य वर की प्राप्ति होकर शीघ्र मांगलिक कार्य संपन्न होता है 

      
गुरूवार के दिन प्रातरूकाल नित्यकर्म से निवतृत होकर हल्दीयुक्त रोटियां बनाकरप्रत्येक रोटी पर गुड़ रखें  उसे गाय को खिलाएं गुरूवार नियमित रूप से यह विधिकरने से शीघ्र विवाह होता है 

    
मंगलवार के दिन देवी -मंदिर में लाल गुलाब का फूल चढ़ाएं पूजन करें एवं मंगलवारका व्रत रखें  यह कार्य नौ मंगलवार तक करे  अंतिम मंगलवार कोख् वर्ष की नौकन्याओं को भोजन करवाकर लाल वस्त्रमेंहदी एवं यथाशक्ति दक्षिण देंशीघ्र फल कीप्राप्ति होगी 

     
कात्यायनि महामाये महायोगिन्यधीश्वरि नंद गोपसुतं देविपतिं में कुरू ने नमर माँकात्यायनि देवी या पार्वती देवी के फोटो को सामने रखकर जो कन्या पूजन कर इसकात्यायनि मंत्र की 1 माला का जाप प्रतिदिन करती है , उस कन्या की विवाह बधा शीघ्रदूर होती है 

         
यदि कन्या की शादी में कोई रूकावट  रही हो तो पूजा वाले 5 नारियल लें !भगवान शिव की मूर्ती या फोटो के आगे रख कर “ऊं श्रीं वर प्रदाय श्री नामः” मंत्र का पांचमाला जाप करें फिर वो पांचों नारियल शिव जी के मंदिर में चढा दें ! विवाह की बाधायेंअपने आप दूर होती जांयगी !

       
प्रत्येक सोमवार को कन्या सुबह नहा-धोकर शिवलिंग पर “ऊं सोमेश्वराय नमःका जाप करते हुए दूध मिले जल को चढाये और वहीं मंदिर में बैठ कर रूद्राक्ष की माला सेइसी मंत्र का एक माला जप करे ! विवाह की सम्भावना शीघ्र बनती नजर आयेगी 

No comments:

Post a Comment

#तंत्र #मंत्र #यंत्र #tantra #mantra #Yantra
यदि आपको वेब्सायट या ब्लॉग बनवानी हो तो हमें WhatsApp 9829026579 करे, आपको हमारी पोस्ट पसंद आई उसके लिए ओर ब्लाँग पर विजिट के लिए धन्यवाद, जय माँ जय बाबा महाकाल जय श्री राधे कृष्णा अलख आदेश 🙏🏻🌹

जानये किस किस राशि पर रहेगा ग्रहण का प्रभाव ।

दो चंद्रग्रहण एवं एक सूर्य ग्रहण का योग बन रहा है 5 जून सन 2020 जेस्ट शुक्ला पूर्णिमा शुक्रवार को चंद्र ग्रहण होगा इस ग्रहण का प्रभाव विद...

DMCA.com Protection Status